भागलपुर नवगछिया इस्माइलपुर प्रखंड के गंगा दियारा क्षेत्र में फैली सैकड़ो एकड़ खेत मे लगी फसलों पर इलाके के अपराधियों की निगाह है। वहीं इस बाबत किसान भागलपुर जिले के पुलिस पदाधिकारी के कार्यालय का चक्कर लगाकर आवेदन देकर गुहार लगा रहे हैं कि उनकी मेहनत की फसल को उनके घर तक सुरक्षित पहुंचाया जाए।

वही इस बाबत किसानों ने नवगछिया एसपी को भी आवेदन देकर गुहार लगाया हैं। दिए गए आवेदन में प्रवीण कुमार पिता स्व जगदीश मंडल, अशोक कुमार यादव, पिता स्व महेन्द्र यादव, अधिक लाल मंडल, विजय शर्मा, धनंजय जसवाल, इलचर मंडल पिता स्व भुजंगी मंडल सभी साकिन फुलकिया, थाना इस्माईलपुर हाल पता- ग्राम आदर्श नगर फुलकिया थाना घोघा, भागलपुर व राजीव यादव, पवन कुमार यादव, अरविन्द यादव तीनों ग्राम- कामलाकुण्ड, थाना इस्माईलपुर जिला- भागलपुर करीब स्थानीय पाँच गाँव के द्वारा, इस्माईलपुर मौजा, खाता संख्या- 1518, खेसरा 2172, 2173 2174, 2201, 2207 2208 रकवा 16 बीघा, जमीन में सरसों मकई खेसारी फसल लगायें है।

विदित हो कि करीब तेइस किसान बजाय रजिस्ट्री केवाला जमीन खरीद कर दाखिल-खारिज जमाबंदी अपने नाम कायम कराकर बिहार सरकार को माल गुंजारी देकर राजस्व रसीद हल्का तक का है साथ ही कैवाला खरीदगी की तिथि से हमलोग जमीन का जोत आवाद उपभोग फसल खाते आ रहे है। इस बार जेल से निकले निम्नलिखित अपराधिगण:


चन्दो यादव, पिता स्व बच्ची यादव, कुमकुम देवी, पति चन्दो यादव, जितेन्द्र यादव, सुमन यादव, कारे लाल यादव, राकेश यादव, चारों पिता चन्दो यादव एवं रदि यादव, पिता स्व अजय यादव, सभी कमलाकुण्ड, थाना टोला, थाना- इस्माईलपुर, जिला- भागलपुर हरवे हथियार रायफल बंदूक थिरनट, लेकर हमारे जमीन पर आके दो लाख रूपये रंगदारी 10 दस हजार रूपया प्रति किसान माँगता है।

नहीं देने पर चन्दो यादव और कुमकुम देवी, जितेन्द्र यादव सभी बोलते है कि बिना रंगदारी चुकता किये खेत पर आया तो गोली मार कर हत्या कर देगें और लाश को गंगा में बहा देगें। इसके अलावे ये लोग इलाके के दबंगों से धमकी दिलवाते है कि खेत छोड़ दो अन्यथा इस्माईलपुर थाना की पुलिस तुमलोगों का पोस्टमाटम नहीं कर पायेगी गोली से छल्ली कर देगें।

तुमलोगों का पहचान खत्म कर देगें। जब हम लोग आवेदकगण 18 मार्च को करीब 12 बजे दिन में हमलोग खेत में गये तो अभियुक्त चन्दो यादव, कुमकुम देवी ने हुकुम दिया की गोली मारो इसपर राकेश यादव, और कारेलाल यादव और सुमन यादव, रवि यादव ने अपने-अपने हाथ में लिये रायफल बंदूक थिरनट से जान मारने के नियत से गोली चलाया जो कनपट्टी साय-साय की आवाज करके निकला।

गिरते-परते भागकर हमलोगों ने जान बचाई। हमारे जमीन और गवाहों के पिडित किसानों का विवरण आवेदन के अंत में संलग्न है। किसानों ने अपराधि के विरूद्ध उचित कानूनी कार्यवाही करते हुए जान माल व फसल की रक्षा की गुहार लगाया है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *