केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस की पार्टी राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के कोषाध्यक्ष सुनील कुमार सिन्हा पर गंभीर आरोप लगा है. आरोप है कि सुनील कुमार सिन्हा ने अपने ऑफिस में एक युवती के साथ बदसलूकी की. युवती जान बचाकर सड़क पर भागी तो वहाँ भी उसके साथ ज़बरदस्ती की गयी. चार बॉडीगार्ड लेकर चलने वाले नेता सुनील कुमार सिन्हा ने बीच सड़क पर युवती को खींचकर ले जाने की कोशिश की. दो दिन पहले युवती ने इसकी शिकायत पटना के बुद्धा थाना में की है लेकिन रसूखदार नेता के सामने पुलिस के हाथ बंध गये हैं.


ऑफिस में की अश्लील हरकत

दरअसल पशुपति पारस की पार्टी का नेता सुनील कुमार सिन्हा एक यूट्यूब चैनल चलाता है. वहाँ काम करने वाली युवती ने पुलिस को अपने साथ हुए वाक़ये की लिखित शिकायत की है. युवती ने पुलिस को बताया है कि वह उस यूट्यूब चैनल में मैनेजर के पद पर काम कर रही थी. लेकिन शुरू से ही सुनील कुमार सिन्हा की नियत अच्छी नहीं थी. वह लगातार असामान्य व्यवहार कर रहा था.

पीड़ित युवती ने पुलिस को बताया 11 अक्टूबर की शाम सुनील कुमार सिन्हा ने उसे अपने निजी चेंबर में बुलाया. वहाँ सुनील कुमार सिन्हा ने युवती के साथ आपत्तिजनक व्यवहार करना शुरू कर दिया. युवती ने जब विरोध किया तो सुनील ने अपने राजनीतिक रसूख़ और पैसे का हवाला देते हुए बर्बाद कर देने की धमकी दी. पीड़ित युवती ने कहा है कि सुनील सिन्हा की नियत को देख कर वह चेंबर से बाहर जाने लगी
ज़बरदस्ती की कोशिश की

युवती ने पुलिस को बताया है कि जब वह सुनील कुमार सिन्हा के चेंबर से बाहर निकलने लगी को सुनील ने उसका हाथ पकड़ लिया और ज़बरदस्ती करने की कोशिश करने लगा. लड़की ने कहा है कि वह सुनील कुमार सिन्हा को धक्का देकर वहाँ से भाग कर सड़क पर चली आयी. उसकी हालत देख कर ऑफिस के दूसरे कर्मचारी भी बाहर आ गये.

सड़क पर भी लड़की को खींचने की कोशिश की

ये वाक़या पटना शहर के वीआईपी इलाक़े किदवई पुरी में हो रहा था. पीड़ित युवती ने पुलिस को बताया है कि वह ऑफिस से बाहर निकल कर सड़क पर खड़ी थी कि तभी सुनील कुमार सिन्हा अपने चार बॉडीगार्ड के साथ वहाँ आ पहुँचा. सुनील सिन्हा ने बीच सड़क पर लड़की के साथ बदसलूकी शुरू कर दिया. पीड़िता ने बताया कि बीच सड़क पर उसके साथ धक्का मुक्की, गाली-गलौज की गयी. सुनील कुमार सिन्हा ने उसे देख लेने की धमकी दी.

घटना का वीडियो भी मौजूद

पीड़िता के मुताबिक़ उसके साथ बीच सड़क पर हुई बदसलूकी का वीडियो भी है. आस पास लगे सीसीटीवी कैमरे में भी ये वाक़या रिकार्ड हुआ है. पीड़ित युवती का कहना है कि सुनील कुमार सिन्हा को केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस का संरक्षण हासिल है और वह पैसे वाला व्यक्ति है. युवती को डर है कि सुनील कुमार सिन्हा उसके साथ और ग़लत करा सकता है.

पुलिस ने साधी चुप्पी

पीड़ित लड़की ने 11 अक्टूबर को ही पटना के बुद्धा थाने में लिखित शिकायत दर्ज करायी है. उसके साथ सड़क पर हुई घटना का वीडियो भी वायरल है. लेकिन पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है. युवती कह रही है कि सुनील कुमार सिन्हा के रसूख़ और पैसे के आगे उसकी गुहार दम तोड़ रही है. अब उसके साथ और अप्रिय घटना हो सकती है.

उधर पशुपति पारस की पार्टी के नेता सुनील कुमार सिन्हा ने लड़की के आरोपों को ग़लत बताया है. सुनील कुमार सिन्हा ने कहा कि युवती उसे ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रही थी. सुनील का आरोप है कि उसने युवती को 3 लाख 60 हज़ार रूपये दिये थे. लेकिन ये पूछे जाने पर कि इतने पैसे क्यों दिये, सुनील कुमार सिन्हा कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *