स्कूलों से बिना सूचना के गायब रहने वाले शिक्षकों पर एक बार फिर केके पाठक का डंडा चला है। औचक निरीक्षण के दौरान स्कूल से गायब रहे वाले विभिनिन स्कूलों के 47 शिक्षकों के वेतन को काटा गया है। इसके साथ ही साथ जिला शिक्षा पदाधिकारी ने दो दिनों के भीतर स्पष्टीकरण देने को कहा है।

दरअसल, शिक्षा विभाग में अपर मुख्य सचिव का दायित्व संभालने के बाद से ही केके पाठक शिक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए लगातार कड़े फैसले ले रहे हैं। केके पाठक के आदेश पर शिक्षा विभाग के अधिकारी प्रखंडवार सभी सरकारी स्कूलों का औचक निरीक्षण कर रहे हैं और बिना सूचना के स्कूल से गायब शिक्षकों के खिलाफ एक्शन लिया जा रहा है।

बेतिया में औचक निरीक्षण के दौरान बिना सूचना के 47 शिक्षक स्कूल से गायब पाए गए हैं। शिक्षा विभाग के आदेश पर जिला शिक्षा पदाधिकारी रजनीकांत प्रवीण ने उनका एक दिन का वेतन काट दिया है और शोकॉज किया है। प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर यह कार्रवाई की गई है। यह निरीक्षण बीते 11 और 12 अक्टूबर को किया गया था। शिक्षकों द्वारा स्पष्टीकरण का संतोषजनक जवाब नहीं देने पर उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी होगी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *