स वक्त की बड़ी खबर राजधानी पटना से निकलकर सामने आ रही है जहां मुख्यमंत्री आवास पर चल रहे विधानसभा प्रभारी की बैठक में नीतीश कुमार ने बड़ा फैसला लिया है। नीतीश कुमार ने विधानसभा प्रभारी की टीम को भंग कर दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार, नीतीश कुमार ने आज अपने आवास पर विधानसभा प्रभारी की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में अब जो खबर निकलकर सामने आ रही है उसके मुताबिक नीतीश कुमार ने हर जिले के प्रभारी को उनके दायित्व से मुक्त कर दिया है। यानी नीतीश कुमार ने विधानसभा प्रभारी की टीम को भंग करने का निर्देश दे दिया है।

बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार विधानसभा सीटों की संख्या के आधार पर प्रभारी की टीम का ऐलान करने का फैसला किया है इसलिए आज पुरानी टीम को भंग कर दिया गया है। नीतीश कुमार ने फैसला किया है कि अब हर राज्य के हर एक जिले में एक से अधिक प्रभारी रहेंगे जबकि इससे पहले प्रत्येक जिले में मात्र एक प्रभारी हुआ करते थे।

मालूम हो कि, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज जदयू के सभी विधानसभा प्रभारी से 1-2-1 मुलाकात कर रहे हैं। 2024 में लोकसभा चुनाव और 2025 में बिहार विधानसभा चुनाव के लिये पार्टी को अभी से ही खुदको पूरी तरह तैयार कर लेना चाहती है। इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 23 सितंबर को पार्टी के सभी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष और सभी प्रवक्ताओं के साथ बैठक की थी और उनसे फीडबैक लिया था।

आपको बताते चले कि, पिछले ही दिन विधानसभा प्रभारी को लेकर जदयू में काफी तनातनी की स्थिति बनी हुई थी। उसके बाद अब नीतीश कुमार ने सभी जिलों के प्रभारियों की बैठक बुलाई और इस बैठक के बाद टीम भंग करने का ऐलान कर दिया। जानकारी हो कि, इन प्रभारी की भूमिका विधानसभा सीटों को तय करने में और उम्मीदवारों को तय करने में महत्वपूर्ण होती है, ऐसे में या माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री सभी 243 विधानसभा प्रभारी से विधानसभा से संबंधित फीडबैक लेंगे।

इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सांसदों, विधायकों से काफी पहले मिल चुके हैं। संगठन के लोगों से लगातार मुलाकात कर रहे हैं जदयू के जिला अध्यक्ष और प्रखंड अध्यक्ष तक से मिल चुके हैं और अब सभी विधानसभा प्रभारी से उनका मन टटोलेंगे। ऐसे नीतीश कुमार जब भी इस तरह की बैठक करते हैं तो कोई बड़ा फैसला लेते रहे हैं. इसलिए सब की नजर नीतीश कुमार की बैठकों पर लगी है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *