पप्पू यादव ने कहा कि शीशे के घर में रहकर तेजस्वी पत्थर फेंकने का काम कर रहे हैं. उनका लक्ष्य केवल कुर्सी है.

उन्हें संविधान बचाने से कोई मतलब नहीं है. वह तो बीजेपी का प्रचार कर रहे हैं. खुलेआम NDA को वोट देने की अपील करते हैं. इससे उनकी मानसिकता समझ में आ रही है.

पप्पू यादव ने तेजस्वी यादव के ‘एनडीए को चुन रहे हो’ वाले बयान पर बड़ा पलटवार किया है. तेजस्वी को उन्होंने ‘बिच्छू’ तक कह दिया. पप्पू यादव ने तेजस्वी को नसीहत देते हुए कहा कि उन्हें अपने पिता लालू प्रसाद से सीखना चाहिए. पप्पू यादव ने कहा कि तेजस्वी योद्धा हैं और राजा भी हैं. हम रंक हैं और रंक के मुंह से राजा के बारे में कुछ भी कहना उचित नहीं होगा.

पप्पू यादव ने कहा कि राहुल गांधी का लक्ष्य देश है, लेकिन तेजस्वी का लक्ष्य कुर्सी है. उन्हें संविधान बचाने से कोई मतलब नहीं है. वह तो बीजेपी का प्रचार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि शीशे के घर में रहकर तेजस्वी पत्थर फेंकने का काम कर रहे हैं. अब तो खुलेआम एनडीए को वोट देने की अपील करते हैं. इससे उनकी मानसिकता समझ में आ रही है.

पूर्णिया इस समय बिहार की सबसे हॉट सीट

बता दें कि बिहार की पूर्णिया इस समय सबसे हॉट सीट बनी हुई है.

यहां एनडीए, INDIA गठबंधन और पप्पू यादव के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है. पप्पू यादव ने पूर्णिया सीट पर तेजस्वी यादव के लिए इतनी मुश्किल खड़ी कर दी हैं कि अब वो ‘इंडिया नहीं तो एनडीए’ का नारा लगाकर पप्पू यादव के खिलाफ चुनाव प्रचार कर रहे हैं.

बिहार की 5 सीटों पर दूसरे चरण में मतदान

बिहार में दूसरे चरण में पांच लोकसभा सीटों पर चुनाव होना है. पूर्णिया जिनमें से एक है. पूर्णिया शुरू से ही पप्पू यादव की उम्मीदवारी को लेकर चर्चा में बनी हुई है. पप्पू यादव पहले राजद से मिले फिर कांग्रेस में विलय किया और आखिर में बेटिकट होने के बाद अब निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं. पप्पू यादव पूर्णिया में आरजेडी उम्मीदवार बीमा भारती के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं.

पप्पू यादव ने पूर्णिया में मुकाबले को बना दिया त्रिकोणीय

बिहार में ज्यादातर सीटों पर NDAऔर INDIA में सीधा मुकाबला है, लेकिन यहां पूर्णिया में मुकाबले को पप्पू यादव ने त्रिकोणीय बना दिया है. राजद उम्मीदवार बीमा भारती पूर्णिया में मुश्किल में फंस गई हैं, ऐसे में तेजस्वी यादव ने चुनाव प्रचार की लाइन ही बदल दी. अब तेजस्वी यादव पप्पू यादव को दरकिनार करने के लिए कह रहे हैं. इंडिया नहीं तो एनडीए को वोट देने की बात करने लगे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *