बिहार में स्वास्थ्य विभाग लगातार सुधार को लेकर कार्य किया जा रहा है। यही वजह है कि स्वास्थ्य विभाग के तरफ से लगातार कई अस्पतालों में औचक निरीक्षण किया जा रहा है। इसी कड़ी में अब पीएमसीएच में धावा दल के औचक निरीक्षण के दौरान 35 डॉक्टर गायब मिले। इनमें दो एचओडी, तीन एसोसिएट प्रोफेसर, चार असिस्टेंट प्रोफेसर के साथ ही सीनियर रेजीडेंट और जूनियर रेजीडेंट डॉक्टर शामिल हैं।

दरअसल, पीएमसीएच के अधीक्षक डॉ आइएस ठाकुर ने बताया कि- निरीक्षण के दौरान गायब मिले 35 डॉक्टरों की रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को भेज दी गयी है। उनको शोकॉज दिया गया है। इनसे दो दिनों के अंदर जवाब मांगा गया है। सही जवाब नहीं मिला, तो स्वास्थ्य विभाग के दिशा-निर्देश पर उचित कार्रवाई होगी। अधीक्षक सुबह 8:45 बजे पर ही पहुंच गये थे। लेकिन, दर्जनों ऐसे डॉक्टर थे, जो ओपीडी में 10 बजे तक भी नहीं पहुंचे थे।

जबकि नियमानुसार मरीजों के लिए सुबह 8:30 बजे से ओपीडी के लिए रजिस्ट्रेशन होता है और 9 बजे से ओपीडी में इलाज शुरू हो जाता है। ऐसे में जो डॉक्टर गायब थे या लेट अस्पताल पहुंचा। धावा दल की टीम ने शिशु रोग विभाग, स्त्री एवं प्रसूति रोग, रेडियोलॉजी, हड्डी, प्लास्टिक सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, नेत्र रोग, सर्जरी, हृदय रोग, इमरजेंसी, राजेंद्र सर्जिकल ब्लॉक, सर्जिकल व न्यूरो इमरजेंसी आदि वार्डों का औचक निरीक्षण किया।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *