भागलपुर जिले के पांच प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों के वेतन पर रोक लगा दी गई है।

इनमें शाहकुंड, खरीक, नाथनगर, नगर निगम और गोपालपुर प्रखंड के बीईओ भी शामिल हैं।

शिक्षा विभाग के कंट्रोल एंड कमांड सेंटर से आए फोन कॉल रिसीव नहीं करने के कारण इन सभी का वेतन रोकने की कार्रवाई की गई है। इस बाबत प्राथमिक शिक्षा निदेशक मिथिलेश मिश्र ने पत्र जारी किया है।

साथ ही इनसे स्पष्टीकरण भी मांगा गया है। अगर इनमें से किसी भी बीईओ का पूर्व से वेतन भुगतान स्थगित है तो उनके विरुद्ध आरोप पत्र गठित करने की बात कही गई है। इसके अलावा अगर कोई बीईओ पूर्व से निलंबित हैं या उनके विरुद्ध आरोप पत्र गठित है तो उनपर पूरक आरोप पत्र गठित करते हुए अनुशासनिक कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। विभाग की सूची में प्रदेश के 67 प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी शामिल हैं।

अररिया के चार फर्जी शिक्षक हुए बर्खास्त

फर्जी प्रमाणपत्र के सहारे वर्षों से नौकरी कर रहे चार शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया।

सक्षमता परीक्षा के बाद जांच मेें फर्जीवाड़ा का खुलासा हुआ। कार्रवाई की जद में आने वाले शिक्षकों में भरगामा के आदर्श मवि सिमरबनी की प्रियंका कुमारी, उत्क्रमित मवि पैकपार की मंजू कुमारी, नरपतगंज के मवि खाब्दह डूमरिया की ज्योति कुमारी व रानीगंज प्रखंड के प्रावि कोहबरा विशनपुर के संजय कुमार शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *