स्कूल

बिहार में बीते 3-4 दिनों से सूर्य की तपिश और प्रचंड गर्मी ने लोगों का हाल बेहाल कर दिया है. सोमवार को जब स्कूल खुले तो लू की चपेट में आकर कई छात्र और शिक्षक बेहोश हो गए. जिसके बाद शिक्षा विभाग ने 11 से 15 जून तक सभी सरकारी विद्यालयों में भीषण गर्मी को देखते हुए अवकाश घोषित कर दिया है. इस दौरान सभी विद्यालयों के शिक्षक भी अवकाश पर रहेंगे. उल्लेखनीय है कि 16 जून को रविवार और 17 जून को बकरीद की छुट्टी है. लिहाजा अब स्कूल 18 जून को ही स्कूल खुलेंगे. माध्यमिक शिक्षा निदेशक सन्नी सिन्हा ने इस संबंध में सोमवार को आदेश जारी कर दिए हैं.

स्कूल
स्कूल

लू की वजह से घोषि त की गई छुट्टी

जारी आदेश में कहा गया है कि राज्य के अनेक स्थानों पर 14 जून तक लू चलने की सूचना मिली है. इसको ध्यान में रखते हुए स्कूलों में अवकाश घोषित किया गया है. उल्लेखनीय है कि सोमवार से ही बदले हुए टाइम टेबल के हिसाब से स्कूल खुले थे. इससे पहले ग्रीष्मावकाश के बाद 15 मई से स्कूल खुल गए थे. इधर प्रचंड गर्मी को देखते हुए शासन ने विद्यालय को 8 जून तक बंद कर दिया था. अभी भी गर्मी से राहत नहीं मिलने की वजह से एक बार फिर छुट्टियां बढ़ा दी गई है.

भीषण गर्मी के कारण बेहोश हुए छात्र

सोमवार को स्कूल खुलने के बाद चिलचिलाती धूप और गर्मी ने विद्यार्थियों को परेशान किया. उमस भरी गर्मी में छात्र पसीने से तरबतर दिखे. कक्षा में विद्यार्थी गर्मी से परेशान रहे। 10 बजे के बाद निकली चिलचिलाती धूप ने विद्यार्थियों को झुलसा दिया. इस गर्मी ने प्राथमिक और मध्य विद्यालयों के साथ ही हाईस्कूल के विद्यार्थियों को भी परेशान किया. कई जिलों से शिक्षकों और विद्यार्थियों के भीषण गर्मी के कारण बेहोश होने की खबरें आईं.

14 जून तक भीषण लू की चपेट में बिहार

दस जून को आइएमडी पटना ने आगामी चार दिन घातक लू चलने का पूर्वानुमान जारी किया है. पूर्वानुमान में लू को लेकर अलर्ट भी जारी किया है. आइएमडी के मुताबिक राज्य के दक्षिण-पश्चिम और दक्षिण- मध्य के इलाके में भीषण लू के आसार हैं. प्राणघातक लू के प्रभाव को देखते हुए आइएमडी ने इस इलाके में रेड अलर्ट जारी कर दिया है. राज्य के दक्षिण-पूर्व भाग के लिए ऑरेंज अलर्ट और बिहार के शेष इलाकों विशेषकर उत्तर-पश्चिम में लू के अंदेशे के चलते येलो अलर्ट है.

अपना बिहार झारखंड पर और भी खबरें देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *